खुश खबरी! स्कूल आने-जाने के लिए छात्राओं को सरकार देगी, हर साल 3000 से 5400 रुपये, यहां से जाने सम्पूर्ण जानकारी

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Join Join Now

Transport Voucher Scheme: राजस्थान के ग्रामीण इलाकों में स्थित स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं के लिए खुशी की खबर है. रूरल एरिया की छात्राओं को अब सरकार की तरफ से स्कूल आने-जाने पर किराए के रूप में भत्ता दिया जाएगा, जिसे ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना (Transport Voucher Scheme) नाम दिया गया है।

नया शिक्षा सत्र शुरू होने के साथ ही स्कूल शिक्षा परिषद ने ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना को लेकर दिशा निर्देश भी जारी कर दिए हैं.

इसके योजना के तहत प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में सरकारी स्कूलों की 9वीं और 10वीं क्लास की छात्राओं को रोजाना की प्रेजेन्स के हिसाब से 20 रुपए की ट्रांसपोर्ट वाउचर सुविधा प्रदान की जाएगी. इसका फायदा राज्य की 21 हजार 234 छात्राओं को मिलेगा.

पूरे साल स्कूल में प्रेजेन्स के आधार पर हर छात्रा को मैक्सिमम 5400 रुपए दिए जाएंगे, जो उसके बैंक खाते में जमा होंगे. इसके लिए किसी भी सूरत में नकद भुगतान नहीं किया जाएगा. इस ट्रांसफर वाउचर योजना का लाभ उन्हीं छात्राओं को मिलेगा जिनके घर से स्कूल की दूरी 5 किलोमीटर या उससे ज्यादा है.

Transport Voucher Scheme kya hai 

शिक्षा विभाग का कैलेंडर शिविरा पंचांग के हिसाब से कार्य दिवसों की गणना के आधार पर ट्रांसपोर्ट वाउचर की राशि को स्वीकृति प्रदान की जाएगी. इसकी जिम्मेदारी संस्था यानी स्कूल के हेड की होगी. सिर्फ वही छात्राओं की प्रेजेन्स की डिटेल के आधार पर अपनी रिपोर्ट देंगे, जिसके आधार पर छात्राओं को राशि मिलेगी. इस स्कीम का फायदा मॉडल स्कूलों में पढ़ने वाली स्टूडेन्ट्स को भी मिलेगा. शिक्षा परिषद की तरफ से अभी 9वीं और 10वीं क्लास की छात्राओं के लिए ही इस योजना को जारी किया गया है. 11वीं और 12वीं कक्षा की छात्राएं फिलहाल इस स्कीम से बाहर हैं.

पहली से 8वीं तक के छात्रों को भी फायदा

इसके अलावा रूरल एरिया के सरकारी स्कूलों में एडमिशन लेने वाले पहली से आठवीं क्लास के छात्र व छात्राएं, दोनों को ही इस योजना से लाभान्वित किया जाएगा. उनके लिए घर से स्कूल की दूरी के आधार पर राशि तय की गई है. उन बच्चों के लिए पहली से पांचवीं तक एक किलोमीटर और छठी से आठवीं तक दो किलोमीटर घर से स्कूल की दूरी होने पर रोजाना 10 से 15 रुपए के वाउचर दिए जाएंगे. इन कक्षाओं के पात्र विद्यार्थियों को पूरे शिक्षा सत्र में अधिकतम 3 हजार रुपए ही स्वीकृत होंगे.

Rajasthan Transport Voucher Scheme

अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुनील कुमार बोड़ा का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र की छात्राओं के लिए सरकार की ये बेहतरीन योजना है. इससे उन छात्राओं को फायदा मिलेगा जो घर से स्कूल की दूरी ज्यादा होने की वजह से शिक्षा ग्रहण नहीं कर पातीं. इस योजना को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं और नए शिक्षा सत्र में पात्र छात्राओं को ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा.

Leave a Comment