राजस्थान में 1 जुलाई से बच्चों की पूरी शिक्षा होगी फ्री, सरकार की नई योजना जाने

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Join Join Now

Farmers Children Education Free : मुख्यमंत्री किसान शिक्षा प्रोत्साहन योजना से आया नया अपडेट। अब राजस्थान सरकार गरीब किसानों के बच्चों को देगी मुफ्त शिक्षा। केजी से यूजी तक किसान बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिलेगी। राजस्थान सरकार की यह योजना एक जुलाई से लागू होगी।

Farmers Children Education Free 

अगर आप एक गरीब किसान हैं और आप अपने बच्चों की पढ़ाई को किसी कारणवश जारी नहीं रख पा रहे, तो अब आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि राजस्थान सरकार ने गरीब किसानों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा देने का वादा किया है।

इसी को ध्यान में रखकर सरकार ने मुख्यमंत्री किसान शिक्षा प्रोत्साहन योजना 2024 की शुरुआत की है। इस योजना के तहत प्रदेश राज्य के बंटाईदार किसान से लेकर लघु सीमांत किसान, खेती किसान, श्रमिक किसानों के बच्चों को KG कक्षा से लेकर PG तक की शिक्षा एकदम नि:शुल्क प्रदान की जाएगी। वह किसी भी कारणवश अपनी पढ़ाई बीच में ही नहीं छोड़े और अपने पैरो पर खड़े होकर आत्मनिर्भर बन सके।

Farmers Children Education Free Elejiblity 

  • इस योजना का लाभ राजस्थान के मूल निवासी माता-पिता के बच्चों को दिया जाएगा
  • इस योजना का लाभ अल्प आय वर्ग, लघु सीमांत बटाईदार किसानों एवं खेतिहर श्रमिकों के परिवार के बच्चों को दिया जाएगा।
  • अल्प आय वर्ग: जिन अभिभावकों की वार्षिक पारिवारिक आय 2.50 लाख रुपये या इससे कम है, उनके बच्चों को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • लघु, सीमांत किसान: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा परिभाषित। इसकी जानकारी आधिकारिक नोटिफिकेशन से देख सकते हैं।
  • बटाईदार किसान: वह किसान जिनके पास खुद की भूमि नहीं है वह दूसरों की जमीन का प्रयोग इस शर्त पर करते हैं कि अपनी फसल का कुछ हिस्सा जमीन के मालिक को दिया जाएगा।
  • खेतिहर श्रमिक, भूमिहीन, कृषि मजदूर: इनका अभिप्राय उन व्यक्तियों से है जिनके पास खुद की कृषि भूमि नहीं होती लेकिन ये कृषकों की भूमि पर एक मजदूर या श्रमिक के रूप में कार्य करते हैं अथवा जिनके पास कृषि के लिए थोड़ी सी भूमि होती है और वह अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए कृषि मजदूर बनकर कार्य करते हैं।
  • बटाईदार किसान एवं खेतिहर श्रमिक: इनका अभिप्राय उन व्यक्तियों से हैं जिनके पास निम्नलिखित दस्तावेज होते हैं जैसे नरेगा जॉब कार्ड , जॉब कार्ड, उज्ज्वला योजना में चयनित, राज्य सरकार में अन्य पंजीकृत योजना में चयनित, उस गांव का राशन कार्ड या राजस्थान का मूल निवास प्रमाण पत्र।

मुख्यमंत्री किसान शिक्षा प्रोत्साहन योजना में आवेदन कैसे करे?

मुख्यमंत्री किसान शिक्षा प्रोत्साहन योजना का लाभ इस शैक्षणिक सत्र से मिलना शुरू हो गया है. इस योजना के कार्यान्वयन की जिम्मेदारी महाविद्यालय के प्राचार्य को उच्च शिक्षा विभाग के माध्यम से सौंपा गया. इसमें 2024-25 की प्रवेश नीति के आवश्यक निर्देशों को शामिल किया जाएगा.

आवेदकों को आवेदन पत्र में निर्दिष्ट कॉलम में “हाँ” चिह्नित करते हुए संबंधित दस्तावेज अपलोड करने की सुविधा दी जाएगी. प्रवेश नीति में फीस से सम्बंधित मुद्दों को भी इसमें शामिल किया जाएगा और महाविद्यालयों की फीस संरचना में भी परिवर्तन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री किसान शिक्षा प्रोत्साहन योजना शुरु होते ही सबसे पहले अपडेट पाना चाहते है Yes/No

Leave a Comment